한국어 日本語 中文 Deutsch Español हिन्दी Tiếng Việt Português Русский LoginJoin

Login

welcome

Thank you for visiting the World Mission Society Church of God website.

You can log on to access the Members Only area of the website.
Login
ID
Password

Forgot password? / Join

In Korea

कोरिया के छुंगछंग प्रांत में तीन नए मन्दिरों के उद्घाटनों के लिए आराधनाएं

  • Nation | कोरिया
  • Date | April 05, 2016
5 अप्रैल को जब वसंत की सुहावनी धूप खिली और सुन्दर फूल सबके मन को मोह ले रहे थे, तीन नए मन्दिरों के उद्घाटनों के लिए आराधनाएं हुईं। वे छुंगछंग प्रांत में स्थित बोल्यंग, होंगसंग और आसानबेबांग चर्च ऑफ गॉड हैं। चूंकि इस समय पूरे संसार के सात अरब लोगों को प्रचार करने का आंदोलन सक्रिय रूप से संचालित है, नए मन्दिरों का उद्घाटन समारोह और अधिक अर्थपूर्ण है।
ⓒ 2016 WATV

आराधना सुबह 11 बजे, दोपहर 3 बजे और शाम 8 बजे क्रमश: शुरू हुई। माता ने उन सदस्यों की सराहना की जिन्होंने नए मन्दिरों का निर्माण कार्य समाप्त होने तक कड़ी मेहनत की थी, और प्रार्थना की कि सब परिवार आशीषित और सकुशल रहें। उन्होंने दयालु सामरी का दृष्टांत बताया जिसने डाकुओं के हाथों अधमरा छोड़ दिए गए व्यक्ति की बड़ी सहायता की थी, और कहा कि, “मर रही आत्मा को बचाना ही सबसे बड़ा प्रेम है। आज यह दुनिया निर्दय होती जा रही है और लोग इतने व्यस्त रहते हैं कि उन्हें अपने आसपास देखने की फुर्सत भी नहीं है। आइए हम उन पर दया करें और उन्हें परमेश्वर का प्रेम पहुंचाएं।”

ⓒ 2016 WATV
The Hongseong Church


प्रधान पादरी किम जू चिअल ने नए मन्दिरों के उद्घाटनों की बधाई दी और सदस्यों को नए मन्दिरों के अर्थ के बारे में ज्ञात कराया जो बहुत आत्माओं को बचाने के लिए प्रदान किए गए हैं। उन्होंने कहा, “सात अरब लोगों को प्रचार करना सात अरब मणियों को ढूंढ़ने जैसा है।” और सदस्यों से निवदेन किया कि, “आप इस पर विश्वास करें कि परमेश्वर सब कार्यों की योजना बनाते हैं, उनका संचालन करते हैं और उन्हें पूरा करते हैं। कृपया हर्षित और आनन्दित मन से सुसमाचार के कार्य में भाग लीजिए(मत 28:18–20; मत 24:13; रो 10:13–18; यश 14:24–27)।”

तीन चर्चों के सदस्यों ने आराधना में भाग लिया और पवित्र आत्मा की आशीष मांगी। उन्होंने यह कहते हुए अपना दृढ़ संकल्प दिखाया, “हम बाइबल की शिक्षाओं का पालन करने वाले विश्वासियों के रूप में दयालु सामरी का मन रखेंगे और प्रचार और सेवा करने में और अधिक ताकत लगाएंगे।”

बोल्यंग चर्च ऑफ गॉड
देछन समुद्र–तट और मिट्टी महोत्सव जैसे आकर्षक पर्यटन स्थलों और सांस्कृतिक विषयवस्तु वाले कार्यक्रमों के द्वारा बोल्यंग शहर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक प्रमुख पर्यटन नगर बन गया है। बोल्यंग चर्च ऑफ गॉड, जिसका शालीन बाह्य रूप बोल्यंग के खुबसूरत नजारे से मेल खाता है, सिर्फ निवासियों का नहीं, बल्कि बोल्यंग की यात्रा करने वाले यात्रियों का भी स्वागत करने के लिए तैयार है। चर्च के सदस्य दुनिया भर के सात अरब लोगों को प्रचार करने के आंदोलन के जोश से प्रेरित हुए और एक लाख निवासियों और यात्रियों को परमेश्वर का प्रेम पहुंचाने के लिए भरसक प्रयास कर रहे हैं।

होंगसंग चर्च ऑफ गॉड
होंगसंग चर्च ऑफ गॉड जो बेज रंग में चमकता है, किसी बालकथा के एक सुन्दर किले का स्मरण दिलाता है। चर्च चौड़ी और खुली मुख्य सड़क के पास है, और चर्च के पीछे ग्रामीण परिदृश्य दिखाई देता है जो शारीरिक और मानसिक रूप से थके लोगों को आराम पहुंचा सकता है।
होंगसंग शहर प्राचीन काल से वफादारी के इलाके के रूप में जाना जाता है, क्योंकि यहां सेनापति छवे यंग, सेनापति किम ज्या–जिन आदि जैसे बहुत से वफादार देशभक्तों का जन्म हुआ था। चर्च के सदस्य कहते हैं, “हम ईमानदार और सीधे–सादे विश्वास के साथ परमेश्वर की सेवा करते हुए अच्छे कर्मों के साथ अपने समाज में योगदान देना चाहते हैं।”

ⓒ 2016 WATV
1. The Boryeong Church 2. After the dedication service, the members of the Hongseong Church pose for a commemorative photograph. 3. The dedication service for the Boryeong Church 4. The dedication service for the Baebang Church in Asan 5. The Baebang Church in Asan
Church Intro. Video
CLOSE